Header Ads

  • Breaking Post

    केंचुएँ की खाद से कर सकते है 1 लाख रुपयें महीने तक की Income

     क्या हमारे बात पर आप को यकींन नही हो रहा है? तो हमारी बात पर बिलकुल यकिन ना करें आप यकींन करे उत्तरप्रदेश के मेरठ में रहनेवाली पायल अग्रवाल की बातों पर …जी हाँ दोस्तों ..पायल अग्रवाल जिन्होंने कंप्यूटर साइंस से इंजीनियरिंग कर कई जगह जॉब के लिए अप्लाई करने बाद  केंचुएँ की खाद के business को करने का निर्णय लिया और आज इसी उद्योग से पायल 1 लाख रुपयें से भी ज्यादा महीने की incomeप्राप्त कर रही है।

    इसी तरह बिहार शरीफ के रहनेवाले और agriculture में डीग्री हासिल कर चुकें कुमार पुरुषोत्तम अपनी 15,000 माह की प्राइवेट जॉब छोड़कर vermicompost production business को कर महीने के 1 लाख रुपयें से ज्यादा कमाई कर रहे है।

    हमारे देश में पायल और कुमार पुरुषोत्तम जैसे कई नौजवान युवक/युवतियां इस vermicompost production business को कर रहे है। और खुद को स्थापित कर औरों के लिए भी रोजगारों के अवसर उत्पन्न कर रहे है।

    vermicompost production business के इस आर्टिकल में हम केंचुएँ की खाद के व्यापार के बारें में पूर्ण विस्तार से बताएँगे। साथ ही आप केंचुएँ की खाद का उद्योग किस तरह से स्थापित कर सकते है इस की पूरी जानकारी देंगे।

    केंचुएँ की खाद
    केंचुएँ की खाद


    vermicompost – केंचुएँ की खाद

    केंचुएँ की खाद जिसे वर्मीकम्पोस्ट (Vermicompost) भी कहाँ जाता है। यह एक पोषण तत्वों से भरपूर अति उत्तम जैविक खाद है। यह केंचुएँ के द्वारा गोबर, वनस्पतियों, और भोजन के कचरे आदि को विघटित करके बनाई जाती है।

    Vermicompost एक गंध रहित खाद होने से उस में दुर्गन्ध नहीं होती है और ना ही इसमें मक्खी एवं मच्छर पलते है। यह एक उत्तम दुर्गन्ध रहित खाद होने से वातावरण प्रदूषित नहीं होता। तापमान नियंत्रित रहने से जीवाणु क्रियाशील तथा सक्रिय रहते हैं। Vermicompost 40 से 60 दिनों के अंदर तैयार हो जाता है। इसमें 2.5 से 3% नाइट्रोजन, 1.5 से 2% सल्फर तथा 1.5 से 2% पोटाश पाया जाता है।

    vermicompost का खेती में महत्व

    रासायनिक खाद से खेती में मिट्टी में पोषक तत्वों में सब से अधिक कमी आ रही है। रासायनिक खाद की वजह से मिटटी की उर्वरकता कम होते जा रही है और साथ ही रासायनिक खाद से उगनेवाले खाद्यों से मानवीय स्वास्थ्य पर भी विपरीत परिणाम होते आ रहे है। इसलिए भी जैविक और कम्पोस्ट खादों का महत्व बढ़ता जा रहा है।

    vermicompost खाद से खेती के लिए कही अधिक फायदेमंद साबित हो रहे है जैसे…

    • Vermicompost  मिट्टी में कार्बनिक पदार्थों की काफी बढ़ोतरी करता है और साथ ही भूमि में जैविक प्रक्रिया की निरंतरता भी काफी बढ़ा देता है।

    • केंचुएँ की खाद (vermicompost) के नित्य  प्रयोग करने से खेत में मिटटी उपजाऊ एवं भुरभुरी बनती हैं।

    • Vermicompost के एक बार के उपयोग के बाद ही आप की 2-3 फसलों तक पोषक तत्वों की उपलब्धता बनी रहती हैं। जिस से आप को बार बार खाद की खरीद नही करनी पडती है।

    • Vermicompost के प्रयोग से फल, सब्जी, अनाज की गुणवत्ता में सुधार आता हैं, जिससे किसान को उपज का बेहतर मूल्य मिलता हैं। साथ ही उपभोक्ता ग्राहकों को भी अच्छी गुणवत्ता और रसयान (chemical) मुक्त पदार्थ मिलते है. जिस का अच्छा और बेहतर परिणाम उनके स्वास्थ पर होता है।

    • केंचुएँ की खाद को कचरा, गोबर, फेंका हुआ अन्न तथा फसल अवशेषों से तैयार किया जाता हैं, जिससे पर्यावरण प्रदूषित नहीं होता और इसके प्रयोग से कृषि सिंचाई की लागत में भी कमी आती है।

    • देश के ग्रामीण क्षेत्रों में vermicompost के  उपयोग से रोजगार की काफी संभावनाएं उपलब्ध हो जाती हैं। और साथ ही शिक्षित युवकों का ज्यादा से ज्यादा सहभाग इस तरह से हमारे agriculture development के लिए काफी मददगार साबित हो रहा है।

    vermicompost (केंचुएँ की खाद) क्या है ?

    ग्रामीण क्षेत्र के युवकों के लिए  यह एक महत्वपूर्ण टॉपिक इसलिए भी हो सकता है की वह अपने गाँव में रहकर ही इस business को अच्छी तरह से कर सकते है। उनके द्वारा स्थापित इस vermicompost के business के लिए उनको आसानी से मार्केट उपलब्ध हो जाता है। और उनका यह business गाँव में रोजगार की सम्भावना को भी बढा सकता है।

    केंचुएँ की खाद के लिए क्या है जरूरी

    यदि आप केंचुएँ की खाद ( vermicompost) का business करना चाह रहे है तो इस के लिए जरुरी चीजों पर गौर करना आवश्यक है जैसे ..

    1. केंचुएँ की खाद के business को स्थापित करने के लिए जगह का चयन

    2. मौसम अनुसार खाद निर्मिती की अच्छी जानकारी

    3. खाद की अच्छी क्वालिटी के लिए केंचुएँ की प्रजाति का चुनाव

    4. vermicompost खाद बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

    5. केंचुएँ की खाद बनाने की step by step  जानकारी

    6. इस व्यवसाय में लागत और आय सम्बन्धी जानकारी

    उपरोक्त 7 बातों का जानना आप के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है। जिस से आप एक प्लानिंग के तहत अपना vermicompost का business अच्छे से शुरू कर सकते है और इस से काफी अच्छा अर्थार्जन कर सकते है।

    केंचुएँ की खाद के business को स्थापित करने के लिए जगह का चयन

    केंचुएँ की खाद (vermicompost) बनाने के लिए जगह कचुनव करना काफी महत्वपूर्ण है। आप को ध्यान रखना होगा की आप इस व्यवसाय को स्थापित करने से पहले ऐसी जगह का चुनाव करें जहाँ आप को किसी परेशानी का समाना ना करना पड़ें। केंचुएँ living organisum का एक हिस्सा है जो कड़ी धुप में खत्म हो सकते है। इसलिए जगह का चुनाव करते समय आप को छाया दार और औसतन नमी रहने वाली जगह का चुनाव करना चाहिए।

    मौसम अनुसार खाद निर्मिती की अच्छी जानकारी

    वैसे तो कोई भी मौसम खाद बनाने की प्रक्रिया में खलल नही डालता है आप सभी मौसम में अच्छी केंचुएँ की खाद बना सकते है। लेकिन आप के सावधानी के तौर पर मौसम की गतिविधियों पर ध्यान देने की आवश्यकता होती है। जो आप के business में एक तरह से परेशानी उत्पन्न कर सकता है।

    जैसे ज्यादा बारिश होने से यदि आप का बनाया हुआ शेड टूट जाता है तो आप के खाद को पूरी तरह से बर्बाद कर सकता है। इसलिए आप को मौसम के हिसाब से ही इन सभी बातों पर ध्यान देने की आवश्यकता होती है।

    गर्मी के मौसम में आप को शेड के तापमान का भी ख्याल रखने की आवश्यकता होती है। केंचुएँ की खाद के लिए 15°c से 25°c तापमान सब से अनुकूल होता है जिस में केंचुएँ खाद बनाने में ज्यादा क्रियाशील होते है। इसलिए आप अपने शेड का तापमान maintain कर सकते है।

    खाद की अच्छी क्वालिटी के लिए केंचुएँ की प्रजाति का चुनाव

    हमारे देश और दुनिया में केंचुएँ की कई तरह की प्रजातीया मौजूद है।  जो सभी काद बनाने में सक्षम होती है। किन्तु कुछ विशेष प्रजातीया केंचुएँ की खाद बनाने के लिए ज्यादा इस्तेमाल होती आ रही है। वह इसलिए की उन में पाए जाने वाली विशेषताएं अन्य प्रजातियों के केंचुएँ से थोड़ी एडवांस होती है।

    जैसे हमारे देश में ज्यादातर Eisenia foetida (आयसेनिआ फोटिडा) इस केंचुएँ की प्रजाति का खाद बनाने में ज्यादा प्रयोग होता है। क्यों की इस की विशेषता है की इस प्रजाति के केंचुएँ किसी भी तापमान एवं आद्रता में खुद को ढाल सकते है और खाद निर्माण में गतिशील होते है। इसे आप ऑनलाइन भी खरीद सकते है।

    केंचुएँ की खाद

    vermicompost खाद बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

    केंचुएँ की खाद बनाने के लिए आवश्यक है 3 मीटर लम्बाई, 1 मीटर चौड़ाई और गहेराई 1.5 फीट से 2 फीट का खड्डा। जिस में हमें ३ इंच की बारीक़ कंकड़ और पत्थर की परत बिछानी होती है और उसपर और 3 इंच की बारीक़ मिटटी की पार्ट बिछा कर उसे समतल करना होता है। उस के बाद हमें निचे दिए गये कच्चे माल की आवश्यकता होती है। या फिर आप 6×2×2 फिट के बेड पर भी केंचुएँ की खाद बना सकते है

    • गाय या भैस का कच्चा गोबर प्रति खड्डा 60 से 80 किलों

    • फसलों के तन, सुखी पत्तिया, बगीचों की पत्तियों का कूड़ा, खेत में जमा कचरा प्रति खड्डा 80 से 100 किलो ( इस तरह के कार्बनिक पदार्थों को खाद  प्रक्रिया से जोड़ने के पहलें 15 से 20 दिनों के लिए partially decompose( अर्ध गला) किया जाता है।

    • 2 से 2.5 किलो केंचुएँ ( जिस में लगभग 2000 से 2500 केंचुएँ आते है)

    • पानी की सुविधा

    केंचुएँ की खाद बनाने की step by step  जानकारी

    vermicompost के लिए बनाये गये खड्डे को अच्छे से समतल करने के बाद आप को सब से पहले फसलों के तने, सुखी पत्तिया, घांस-फूस, नारियल की पत्तिया जैसी चीजे 3 इंच मोटाई में बिछाएं। आप इस के साथ निम के पत्ते भी बिछा सकते है।

    इस के बाद कच्चे गोबर की एक परत बनाये ( गाय या भैस से निकला हुआ ताजा गोबर हमें इस्तेमाल नही करना है। केंचुएँ की खाद के लिए हमें 20 से 25 दिन पुराना गोबर इस्तेमाल करने की आवश्यकता होती है)

    इस के बाद गोबर की परत पर पानी का छिडकाव करें और उसपर केंचुएँ दाल दें। उसपर और गोबर की हलकी परत बना लें और उस के उपर partially decompose कियें हुए कचरें की परत डालें। और फिर इस को टाट या बोरी से अच्छे से ढक दें। और टाट की बोरी को पानी दल कर गिला कर दें।

    नमी को बरकरार रखने के लियें हमें प्रतिदिन टाट और बोरियों पर पानी डालते रहना चाहिए। बेड का सामान्य तापमान 15°c से 25°c1 और नमी 40 से 50 प्रतिशत रखने के लिए यह महत्वपूर्ण है।

    इस तरह से 1 महीने तक हमें रोज पानी डालना है और खाद कडक हो गयी या उस में ढेले बन रहे है तो उसे हमें तोड़ते रहना चाहिए। १महिने के उपरात हमें बेडपर छोटे छोटे केंचुएँ दिखना शुरू हो जायेंगे। इस के उपरांत हमें मौजूद कुढ़े कचरे की हलकी पार्ट बिछानी चाहिए और फिर से टाट और बोरी से ढक कर पानी डालकर नम करते रहना चाहिए।

    साधारणतह 60 से 65 दिनों के आसपास vermicompost बन कर तैयार हो जाता है। पानी बंद कर देने के बाद केंचुएँ निचे चले जायेंगे जिस के बाद आप को खाद एकत्र कर लेनी है। और थोड़ी हवा में रख कर आप पैकिंग कर सकते है।

    इस व्यवसाय में लागत और आय

    केंचुएँ की खाद के इस व्यवसाय में आप को परिचालन 2 रुपयें से 2.5 रूपये प्रति किलो  से भी कम आती है। और vermicompost को आप 4 रुपयें से 6 रुपयें प्रति किलों से बेच सकते है। कम लागत में ज्यादा मुनाफा देनेवाला यह business पूर्ण रूप से आप की एकाग्रता, दूरदृष्टि और मेहनत पर आधारित है।

    आप किस व्यवसाय को छोटे या बड़े पैमाने पर भी कर सकते है।

    केंचुएँ की खाद
    केंचुएँ की खाद


    यह भी पढ़ें :- recycling business ideas in hindi के 10 best plan

    कोई टिप्पणी नहीं

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad